Latest Alone Shayari – Tanhai Shayari » अकेली शायरी..

Latest Alone Shayari, Tanhai Shayari / अकेली शायरी..this short Hindi Poetry about Sad Feeling of Loneliness. Alone Shayari, Tanhai shayari एक रात क्या कुछ नहीं तेरी तन्हाई में,.. गुजर गई हजारों बारिश ये आंखों से ।.


अकेले रोना भी क्या खूब कारीगरी है,
सवाल भी खुद के होते है और जवाब भी खुद के..!!


Akele rona
Alone shayari

Akele Rona Bhi Kya Khoob Karigari Hai,
Savaal Bhee Khud Ke Hote Hai Aur Javab Bhi Khud Ke.


कुछ जख्म सदियों बाद तक भी ताजा रहते हैं, वक़्त के पास भी हर मर्ज़ का इलाज नहीं होता !!


Kuch zakhm sadiyo baad tak bhi taaza rhte hai,
Waqt ke paas bhi har marz ka ilaaz nahi hota..


किताबें भी बिल्कुल मेरी तरह हैं,
अल्फाजों से भरपूर मगर खामोश !


Kitabe bhi bilkul meri tarah hai,
Alfazo se bharpoor magar khamosh.


और क्या लिखूं,
अपनी जिन्दगी के बारे में,
जो जिन्दगी हुआ करते थे
वो ही बिछड़ गये।!


Aur kya likhoon
Apanee jindagi ke baare mein,
Jo jindagi hua karate the
Vo hi bichad gaye.


फिर वोही रात वोही हम वोही तन्हाई है,
फिर हर एक चोट मोहब्बत की उभर आई है.!!


Fir wohi raat wohi hum wohi tanhai hai
Fir har ek chot mohabbat ki ubhar aai hai.


Soch raha hu
Tanhai soch Alone Shayari

सोच रहा हु कुछ लिखूं,
लेकिन क्या पैग़ाम लिखूँ,
तुझ बिन काटी रात लिखूँ,
या साथ गुज़री शाम लिखूं !!


Soch raha hu kuch likhoon,
lekin kya paigam likhoon,
Tujh bin kati raat likhoon,
Ya sath guzari shaam likhoon !!


दर्द की हर एक हद से अब गुज़र गया हूँ मैं,
फिर कभी न सिमटूँगा यूँ बिखर गया हूँ मैं !!


Dard ki har ek had se ab guzar gaya hoon main,
fir kabhi na simtunga yun bikhar gaya hoon main !!


ज़िन्दगी तन्हा है वीरान है
बस यही तो मेरी एक पहचान है.!


Zindagi tanha hai veeran hai
Bus yahi to meri ek phchan hai.


जख्म दे कर ना पूछ करो,
दर्द की शिस्त,
दर्द तो दर्द होता हैं,
थोड़ा क्या, ज्यादा क्या !


Jakhm de kar na poocha karo,
Dard ki shist,
Dard to dard hota hain,
Thoda kya, jyada kya !


अजब पहेलियाँ हैं हाथों की लकीरों में,
सफ़र ही सफ़र लिखा हैं हमसफ़र कोई नहीं


Ajeeb paheliya hai hatho ki lakiro me,
Safar hi safar likha hai
Humsafar koi nahi.


अपने होने का कुछ एहसास न होने से हुआ
खुद से मिलना मेरा इक शख्स के खोने से हुआ !!


Apne hone ka kuch ehsas na hone se hua,
khud se milna mera ik shakhs ke khone se hua..


शहर में किस से सुखं रखिये किधर को चलिए, इतनी तन्हाई तो घर में भी है घर को चलिए..!


Shahr mein kis se sukhan rakhiye kidhar ko chaliye
itni tanhai to ghar mein bhi hai ghar ko chaliye..


वो रो रो कर कहती रही मुझे नफरत है तुमसे , मगर एक सवाल आज भी एक दर्द बना है दोस्तों, के अगर नफरत ही थी तो वो इतना रोई क्यों..!


Wo Ro Ro Kar Kahti Rahi Mujhe Nafrat Hai Tumse ,
Magar Ek Sawal Aaj Bhi Ek Dard bana hai Dosto,
Ke Agar Nafrat Hi Thi To Wo Itna Royi Kyun..


Ek rath kya
Night Alone Shayari

एक रात क्या कुछ नहीं तेरी तन्हाई में,
गुजर गई हजारों बारिश ये आंखों से ।


Ek raat kya kuchh nahin teri tanhai me,
gujar gayi hajaron barish ye ankhon se.


Tahai ~ Alone Shayari.


दूर रहने वाले तेरे को एक बात कहना चाहता हूं,
अगर मेरा ख्याल आए तो अपना ख्याल रखना ।


Door rahane vaale tere ko ek baat kahana chaahata hoon,
agar mera khyal aae to apana khyal rakhana.


वह इस जा में रहते हैं कि हम उसको उनसे ही मांगे,
हम इस ग्रुप में रहते हैं कि हम अपनी ही चीज क्यों मांगे।


Vah is ja me rahate he ki ham usako unase hi mange,
ham is group me rahate hain ki ham apani hi cheej kyon mange.


Tanhai my
Tanhai Alone Shayari

तन्हाई मैं जो चूमता है मेरे नाम को,
हरफ़ महफ़िल में वो शख्स मेरी तरफ देखता नहीं..!


Tanhai main jo choomta hai mere naam ko,
Haraf Mehfil main wo shakhs meri tarf dekhta nahi..


मेरी पलकों का अब नींद से कोई ताल्लुक नही रहा, मेरा कौन है ये सोचने में रात गुज़र जाती है ।


Meri palkon ka ab neend se koi talluk nahi raha,
mera kaun he ye sochane me raat guzar jaathi he.


वक्त के बदल जाने से इतनी तकलीफ नहीं होती जितनी,
किसी अपने के बदल जाने से तकलीफ होती है.!!


Waqt ke badal jane se itani takalif nahi hoti jitani,
kisi apane ke badal jane se takalif hoti he.


बस तुझे देखते रहना चाहता हूँ
पैर जब कोई और करता है तेरे से बात जाल सा जाता हूँ, तू कभी मेरी हो नै सकती
आखिर क्यों मैं इतनी सी बात समझना नहीं चाहता हूँ..!


Bus tujhe dekhte rehana chahta hun, per jab koi aur karta hai tere se baat Jal sa jata hoon
tu kabhi meri ho nei sakti
akhir kyon main itni si baat samajhna nahin chahta hun..


Zindagi Tanhai Shayari


Kiski panah me

किसकी पनाह में तुझको गुज़ारे ऐ जिंदगी,
अब तो रास्तों ने भी कह दिया है, कि घर क्यों नहीं जाते।


Kiski panah me tujhko guzare ae zindagi,
Ab to rasto ne bhi kah diya
Ki ghar kyu nahi jate.


रोते हैं तन्हा देखकर मुझको वो रास्ते,
जिन पर तेरे बगैर मैं कभी गुजरा ना था ।


Rote he tanha dekhakar mujhako vo raaste,
jin par tere bagair me kabhi gujara na tha.


कितनी फिक्र है कुदरत को मेरी तन्हाई की,
जागते रहते हैं रात भर सितारे मेरे लिए ।


Kitani phikr he kudarat ko meri tanhai ki,
jaagate rahate hain raat bhar sitaare mere liye.


तेरा पहलू तेरे दिल की तरह आबाद रहे,
गुजरे ना कयामत शबे तन्हाई की ।


Tera pahaloo tere dil ki tarah aabad rahe, gujare na kayamat shabe tanhai ki..


आँखों से पढ़ने वाले कभी नहीं समझ सकते,
लिखने वाले क्या लिखते है !!


Aankho Se Padhne Wale Kabhi Nahi Samajh Sakte,
Likhne Wale Kya Likhte Hai !!


तेरा हँसता चेहरा दिल को सुकून देता है
हर डैम तेरी मेरी जुदाई को सहायता है
बस इस जनम में तेरे को पाना चाहता हूँ
मेरे दिल हमेशा कटा रहता है.!


Tera hansta chehra Dil Ko Sukoon deta hai
har dam Teri meri Judaai ko sahayata hai
Bus is Janam mein tere ko pana chahta hun
mere Dil hamesha kata rahata hai…


Dushmano ne jo

दुश्मनों ने जो दुश्मनी की है
दोस्तों ने भी क्या कमी की है.!


Dushmanon ne kya dushmani ki hai doston ne bhi kya kami ki hai


हमने देखा है ज़माने का बदलना लेकिन
उनके बदले हुए तेवर नहीं देखे जाते..!


Humne dekha hai zamane ka badalna lekin,
unke badle hue tevar nahin dekhe jaate..


एक महफ़िल में कई महफ़िलें होती हैं शरीक, जिस को भी पास से देखोगे अकेला होगा..!


Ek mehfil mein kaee mehfilein hoti hain sharik,,
jis ko bhi pass se dekhoge akela hoga..


  1. Best 50+ Attitude Shayari in English | Attitude Status.

Leave a Comment

Your email address will not be published.