Top Shayari Sad, Dard, Pain Shayari | Broken Heart Shayari – शायरी सैड.

You can get the best collection of Shayari Sad, New Sad Shayari, Sad Hindi Shayari, Very Sad Shayari, Sad Sms, dard shayari. If you are feeling very sad due to love break-up or harsh behaviour.unhappy and searching for Sad Status for Whatsapp, Twitter, and Facebook..

━━━━━✧❂✧━━━━━

रुठुंगा अगर तुजसे तो इस कदर रुठुंगा की,
ये तेरीे आँखे मेरी एक झलक को तरसेंगी !!


Rutunga agar tujse to es kadar rutunga ki, ye teri aankhe meri ek jhalak ko tarsengi ..


Kya kya nahi, shayari sad
Kya kya nahi, shayari Sad

क्या-क्या नहीं किया मैंने तेरी एक मुस्कान के लिए,
फिर भी अकेला छोड़ दिया उस अनजान के लिए!


Kya-kya nahin kiya maine teri ek muskan ke lie phir bhi akela chod diya us anajan ke lie..


कभी कभी मोहब्बत में वादे टूट जाते हैं,
इश्क़ के कच्चे धागे टूट जाते हैं,
झूठ बोलता होगा कभी चाँद भी,
इसलिए तो रुठकर तारे टूट जाते हैं.!!


Kabhi kabhi mohabbat mein vade toot jate hain, ishq ke kachhe dhage toot jate hai, jhoot bolata hoga kabhi chand bhi, islie to rutakar taare toot jate hai..


तुमने समझा ही नहीं और ना समझना चाहा,
हम चाहते ही क्या थे तुमसे ~ तुम्हारे सिवा !


Tumne samjha hi nahin aur naa samajhna chahaa,
ham chahte hi kya the tumse ~ tumhare sivaa..


सिर्फ एक ही बात सीखी इन हुस्न वालों से हमने​​,
हसीन जिसकी जितनी अदा है वो उतना ही बेवफा है.!


Sirph ek hi baat seekhi in husn valon se hamane​​, haseen jiski jitni ada hai vo utana hi bevapha hai..


हम उम्मीदों की दुनियां बसाते रहे,
वो भी पल पल हमें आजमाते रहे,
जब मोहब्बत में मरने का वक्त आया, हम मर गए और वो मुस्कुराते रहे.!!


Ham ummidon ki duniyan basate rahe, vo bhi pal pal hamen aajmate rahe, jab mohabbat mein marne ka vaqt aaya, ham mar gaye aur vo muskurate rahe.


Royr kuch
Roye kuch is tarah, Shayari Sad

रोये कुछ इस तरह से मेरे जिस्म से लग के वो,
ऐसा लगा कि जैसे कभी बेवफा न थे वो !!


Roye kuch is tarah se mere jism se lag ke vo, aisa laga ki jaise kabhi bevapha na the vo..


बारिशे हो ही जाती है मेरे शहर में,
कभी बादलो से तो कभी आँखों से.!


Barishe ho hi jaati hai mere shahar men,
kabhi badlo se to kabhi ankhon se.


फिर से एक उम्मीद पाल बैठी हूँ,
फिर से तेरे पते पर चिट्टी डाल बैठी हूँ!


Phir se ek ummid paal baithi hoon,
Phir se tere pate par chitti daal baiti hu..


काश वो समझते इस दिल की तड़प को, तो हमें यूँ रुसवा न किया जाता,
यह बेरुखी भी उनकी मंज़ूर थी हमें,
बस एक बार हमें समझ तो लिया होता.!


Kash vo samajhte is dil ki tadap ko, to hamen yoon rusava na kiya jata, yah berukhi bhi unki manzoor thi hamen, bas ek baar hamen samjha to liya hotha..


ऐ मोहब्बत तेरे अंजाम पे रोना आया,
जाने क्यूँ आज तेरे नाम पे रोना आया.!


Ai mohabbat tere anjam pe rona aayaa,
jane kyun aaj tere naam pe rona aayaa.


इस मोहब्बत की किताब के,
बस दो ही सबक याद हुए,
कुछ तुम जैसे आबाद हुए,
कुछ हम जैसे बरबाद हुए.!!


Is mohabbat kee kitab ke, bas do hi sabak yaad hue, kuchh tum jaise aabad hue, kuchh ham jaise barabad hue…


लोग बाज़ार मे आके बिक भी गये,
मेरी क़ीमत लगी की लगी रह गयी.!

Log bazar me
Shayari Sad Log bazaar me

Log bazaar me aake bik bhi gaye, meri qhimat lagi ki lagi rah gayi..


मुझ को ख़ुशियाँ न सही ग़म की कहानी दे दे,
जिस को मैं भूल न पाऊँ वो निशानी दे दे.!!


Mujh ko khushiyan na sahi gam ki kahani de de, jis ko main bhul na paun vo nishani de de.


दर्द शायरी सैड – Shayari Sad


ना वो सपना देखो जो टूट जाये,
ना वो हाथ थामो जो छुट जाये !


Naa vo sapna dekho jo tut jaye,
naa vo hath thamo jo chut jaye..


ऐसा नहीं है कि दुःख बढ़ गए है, बल्कि सच्चाई यह है कि
लोगों में सहन शीलता कम हो गयी है!


Aisa nahi hai ki duhkh badh gaye hai balki sachchayi yah hai ki logon mein sahana shilata kam ho gayi hai.


हर गम निभा रही हूँ खुशी के साथ,
फिर भी आँसू आ ही जाते हैं हँसी के साथ !!


Har gam nibha rahi hoon khushi ke sath, phir bhi ansoo aa hi jaate hain hansi ke saath.


जब तू असग़र के रंग में रंग जाये गई, फिर यह जुदाई खुद अपनी मौत मर जाये गई.!


Jab tu asghar ke rang mein rang jaye gi
Phir yeh judai khud apni maut mar jaye gi..


Divaron se
Shayari Sad, Divare se

दीवारों से मिलना अच्छा लगता है,
हेम भई पागल हो जायेंगे अनीसा लगता है.!


Divaron se mil kar ronaa achcha lagtha hai
ham bhi pagal ho jayenge aisaa lagtha hai..


कितने सालों के इंतज़ार का सफर खाक हुआ,
उसने जब पूछा कहो कैसे आना हुआ.!!


Kitane salon ke intazar ka safar khak hua, usane jab puchaa kaho kaise aana hua..


उस रिश्ते को भी निभाया हमने,
जिसमें ना मिलना पहली शर्त थी!


Us rishte ko bhi nibhaya hamane, jisamen na milana pahali sharth thi.


खबर छपी है इन दिनों, “एक पागल प्रेमी”, ज़रा गौर से देखो वो इश्तेहार हमारा है!


Khabar chapi hai in dino, “Ek pagal premi”,
Zara gaur se dekho wo ishtehar hamara hai..


शक होता है जिनको अपने मर्द होने पर शायद वो ही मासूमों पर मर्दानगी आजमाते हैं !


Shaq hotha hai jinako apane mard hone par shayad vo hee masumon par mardanagi aajamate hai..


सारी दुनिया की खुशी अपनी जगह., उन सबके बीच तेरी कमी अपनी जगह.!


Saree duniya ki khushi apani jagah., un sabake beech teri kami apani jagah…


Mohabbat mokaddar
Mokhaddar, Shayari Sad

मोहब्बत मुकद्दर है कोई ख़्वाब नही,
ये वो अदा है जिसमें हर कोई कामयाब नही.!


Mohabbat mukaddar hai koi khvab nahi, ye vo ada hai jisamen har koi kamiyab nahi..


आज वो दूर है मुझसे ए सच है,
मुझे प्यार आज भी है उस्से ए भी सच है.!!


Aaj vo door hai mujhase e sach hai mujhe pyar aaj bhi hai usse e bhi sach hai.


तुम इतना जो मुस्कुरा रहे हो,
क्या ग़म है जिस को छुपा रहे हो!


Tum etnaa jo muskura rahe ho, kya gam hai jis ko chupaa rahe ho..


वो आये थे मेरी कबर पर अपने हमसफ़र के साथ
कौन कहता है के मरने के बाद कोई याद नहीं करता !!


Wo aye the meri qabar par apne humsafar ke saath
Koun kehta hai ke marne ke baad koi yaad nahi karta…


गजल के रूप में ढल जाऊ काश मै भी कभी,
उदास लम्हों में शायद तुम मुझे गुनाया करो.!


Gajal ke roop mein dhal jaoo kaash mai bhi kabhi udaas lamhon mein shayad tum mujhe gunaya karo..


जब तक तेरा दर्द मेरे साथ है,
तब तक मुझे किस बात की कमी है.!!


Jab taq tera
Sad pain shayari

Jab taq tera dard mere sath hai,
Tab taq mujhey kis baat ki kami hai..


* Best Hindi Shayari Sad – हिन्दी सैड शायरी | Dard Shayari

Leave a Comment

Your email address will not be published.