Latest Bewafa Shayari – New Shayari On Bewafa ¦ बेवफा शायरी.

Latest collection of Bewafa Shayari on love.you can share these Bewafai Shayari with your girlfriend or boyfriend in SMS form or you can set it as Facebook and instagram and Whatsapp.


Mat Rakh Hamse Wafa Ki Ummeed Ai Sanam,
Hamne Har Dam Bewafai Payi Hai, Mat Dhoondh Hamare Jism Pe Jakhm Ke Nishan,
Hamne Har Chot Dil Pe Khaayi Hai.


Math rakha hamse
Best Bewafa shayari

मत रख हमसे वफा की उम्मीद ऐ सनम,
हमने हर दम बेवफाई पायी है,
मत ढूंढ हमारे जिस्म पे जख्म के निशान,
हमने हर चोट दिल पे खायी है।


Jaan kar bhi vo mujhe jaan na pae, aaj tak vo mujhe pahachan na pae, khud hi karali bevafayi hamane, taaki un par koi ilzam na aayi..


जान कर भी वो मुझे जान ना पाए, आज तक वो मुझे पहचान ना पाए, खुद ही करली बेवफ़ाई हमने, ताकि उन पर कोई इल्ज़ाम ना आए.!


Wo Nikal Gaye Mere Raste Se Is Kadar Ki,
Jaise Ki Wo Mujhe Pahchante Nahi,
Kitne Jakhm Khaye Hain Mere Is Dil Ne,
Fir Bhi Hum Us Bewafa Ko Bewafa Mante Hi Nahi.


वो निकल गए मेरे रास्ते से इस कदर कि,
जैसे कि वो मुझे पहचानते ही नहीं,
कितने ज़ख्म खाए हैं मेरे इस दिल ने,
फिर भी हम उस बेवफ़ा को बेवफ़ा मानते ही नहीं।


Aag dil mein lagi jab wo khamosh ho gaye, mahesoos huwa jab wo juda hu gaye
karke wafa kuch de na sake wo
par buhut kuch de gaye jab wo bewafa ho gaye..


आग दिल में लगी जब वो खामोश हो गए
महसूस हुवा जब वो जुदा हो गए
करके वफ़ा कुछ दे न सके वो
पर बहुत कुछ दे गए जब वो बेवफ़ा हो गए.!!


Mere dil ko ab kisi se gila nahin , man se jise chaaha vo mujhe mila nahin , bad naseebi kahoon ya vakt kee bevaphai , andhere mein ek deepak mila par vo jala nahi …


Mere dil ko ab
Dil ki Best Bewafa shayari

मेरे दिल को अब किसी से गिला नहीं ,
मन से जिसे चाहा वो मुझे मिला नहीं ,
बद नसीबी कहूँ या वक्त की बेवफाई ,
अँधेरे में एक दीपक मिला पर वो जला नही!


Mehroom kar gaye hamari mohabbat ko,
kiya kya gunha humne jo tumne chhod diya. sacchi mohabbat farma ke..


महरूम कर गए हमारी मोहब्बत को
किया क्या गुन्हा हमने जो तुमने छोड़ दिया. सच्ची मोहब्बत फरमा के.!


Agar Duniya Me Jeene Ki Chahat Na Hoti,
To Khuda Ne Mohabbat Banayi Na Hoti,
Iss Tarah Log Marne Ki Aarzoo Na Karte,
Agar Mohabbat Me Kisi Ki Bewafai Na Hoti.


अगर दुनिया में जीने की चाहत न होती,
तो खुदा ने मोहब्बत बनायी न होती,
इस तरह लोग मरने की आरजू न करते,
अगर मोहब्बत में किसी की बेवफाई न होती।


Ye pyaar tha,kashish thi,ya bas phareb koi kismat mein dooriyon ke bhi intajam the ab door tumase rah ke mahasoos ye hua manzil nahin the tum bhi bas ik makam the..


ये प्यार था,कशिश थी,या बस फरेब कोई
किस्मत में दूरियों के भी इंतजाम थे
अब दूर तुमसे रह के महसूस ये हुआ
मंज़िल नहीं थे तुम भी बस इक मकाम थे!!


Sad Bewafa Shayari in Hindi


Ja chhod diya tujhe koi hisaab-e-ishq nahi mangte,
shikwa nahi shikayat nahi koi gussa nahi,
ja tujh se hum apni zindagi nahi mangte…


जा छोड़ दिया तुझे कोई हिसाब-इ-इश्क़ नहीं मांगते,
शिकवा नहीं शिकायत नहीं कोई गुस्सा नहीं
जा तुझ से हम अपनी ज़िन्दगी नहीं मांगते.!


Jakhmon ko hamane khud hee sina seekh liya hai jeete hai kaise hamane jeena seekh liya hai aksar jo bahate rahate the aankhon ke raaste hamane bhi un ashkon ko peena seekh liya hai…


जख्मों को हमने खुद ही सिना सीख लिया है, जीते है कैसे हमने जीना सीख लिया है
अक्सर जो बहते रहते थे आंखों के रास्ते
हमने भी उन अश्कों को पीना सीख लिया है


Rusavaeeyon kee baat kyon karate ho tanhaeeyon mein yaad kyon karate ho.. vapha nahin karana to koi baat nahin bevaphai ki baat kyon karate ho..


rusvayi yonki
Rusvayi Best Bewafa shayari

रुसवाईयों की बात क्यों करते हो
तन्हाईयों में याद क्यों करते हो।
वफा नहीं करना तो कोई बात नहीं
बेवफाई की बात क्यों करते हो।।


Mohabbat se bhari koi gazal use pasand nahin, bevaphayi ke har sheyar pe vo daad diya karate hai…!


मोहब्बत से भरी कोई
ग़ज़ल उसे पसंद नहीं।
बेवफाई के हर शेयर पे
वो दाद दिया करते है…!


Ek din ham bhi kafan odh jaenge har ek rishta is zameen se tode jaenge jitana jee chaahe sataalo yaaro ek din rulaate hue sabako chhod jaenge..


एक दिन हम भी कफ़न ओढ़ जाएँगे
हर एक रिश्ता इस ज़मीन से तोड़े जाएँगे.!
जितना जी चाहे सतालो यारो
एक दिन रुलाते हुए सबको छोड़ जाएँगे.!!


Tere ishq ne diya sukoon itana; ki tere baad koi achchha na lage; tujhe karanee hai bevaphayi to is ada se kar; ki tere baad koi bevafa na lage..


तेरे इश्क़ ने दिया सुकून इतना;
कि तेरे बाद कोई अच्छा न लगे;
तुझे करनी है बेवफाई तो इस अदा से कर;
कि तेरे बाद कोई बेवफ़ा न लगे।


2 line Bewafa Shayari.


Teri Wafa Ke Takaaje Badal Gaye Varna,
Mujhe To Aaj Bhi Tujhse Azeez Koi Nahi.


तेरी वफ़ा के तकाजे बदल गये वरना,
मुझे तो आज भी तुझसे अजीज कोई नहीं !


Tum ko khabar nahi magar ek sada dil ko,
barbad kar diya tere do din ke piyar ne..


Tum ko khabr nahi

तुम को खबर नहीं मगर एक सादा दिल को,
बर्बाद कर दिया तेरे दो दिन के पियर ने.!


Udaas kar deti hai ye har shaam mujhe,
lagta hai tu bhul raha hai dheere dheere mujhe…


उदास कर देती है ये हर शाम मुझे,
लगता है तू भूल रहा है धीरे धीरे मुझे.!!


Ishq ki had ki hakiqat bata ke,
muqaddar mein mere zakhmo ka jahaan basa ke..


इश्क की हद की हकीकत बता के,
मुक़द्दर में मेरे ज़ख्मों का जहां बसा के.!


Ab mat kholana, meri jindagi ki puraani kitabon ko jo thi vo main, rahi nahin, jo hoon vo kisi ko pata nahin..


अब मत खोलना, मेरी जिंदगी की पुरानी किताबों को,
जो थी वो मैं रही नहीं, जो हूँ वो किसी को पता नहीं.!!


Meri aankhon mein aansoo kee tarah, ek baar aa jao taqalluf se, banavat se ada se chot lagathi hai..


मेरी आँखों में आँसू की तरह, एक बार आ जाओ तक़ल्लुफ़ से बनावट से अदा से चोट लगती है..!


Rook jathi hai saari shikayaten in hontho tak aakar jab, masoomiyat se vo kahate hai ab mainne kya kiya..


Ruk jathi hai

रूक जाती है सारी शिकायतें इन होंठो तक आकर, जब मासूमियत से वो कहते है अब मैंने क्या किया !


1 thought on “Latest Bewafa Shayari – New Shayari On Bewafa ¦ बेवफा शायरी.”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *