100+ Friendship Shayari | Dosthi Shayari | दोस्ती शायरी

Mujhe parvah

मुझे परवाह नहीं दुनिया खफा रहे,
बस इतनी सी दुआ है, दोस्त मेहरबां रहे.!!


Mujhe Parwah Nahin Duniya Khafa Rahe,
Bas Itni Si Dua Hai Dost Mehraban Rahe…


कहते है दोस्त बनाना ज़िन्दगी है दोस्ती निभाना ज़िंदगी है कितने भी बिजी क्यों न रहे दिनभर मगर 1पाल के लिए ही सही दोस्तों की याद आना ही !!


Kehthe Hai Dost banana zindagi Hai Dosti nibhana zindagi Hai Kitne bhi busy kyu na rahe dinbhar Magar 1pal ke liye hi sahi Dosto ki yaad aana hi.


दोस्ती होती है दिल राज़ बताने के लिए,
हम अपनी हानाशी मिटा दें आपको हँसाने के लिए,
मिलाने की तो आपको फुर्सत नहीं,
तो हम समास करते हैं अपनी याद दिलाने के लिए!


Dosthi hothi hai dil raaz batane ke lie, ham apani haanashi mita den aapako hansane ke lie, milane kee to apako phursat nahin, to ham samas karate hain apani yaad dilaane ke lie.


वक़्त और ख़ुशी तेरे गुलाम होंगे,
हर पल और पहलु तेरे ही नाम
होंगे, जरा मुड़ कर देखना
मेरे दोस्त, तेरे हर कदम के
नीचे मेरे हाथों के निशान होंगे !


Waqt Aur Khushi Tere Gulam Honge,
Har Pal Aur Pehlu Tere Hi Naam
Honge, Jara Mud Kar Dekhna
Mere Dost, Tere Har Kadam Ke
Niche Mere Hatho Ke Nishan Honge.


जिंदा रहा तो तुम्हारा साथ निभाऊंगा दोस्तो
अगर कभी भूल गया तो समझ लेना कि.शादी हो गयी,.!


Jinda Raha To Tumhara Saath Nibhaunga Dosto
Agar Kabhi Bhool Gaya To Samajh Lena Ki Shadi Ho Gayi..


Shayari For Friends

दोस्ती में दोस्त, दोस्त का ख़ुदा होता है,
महसूस तब होता है जब वो जुदा होता है!!


Dosti Mein Dost, Dost Ka Khuda Hota Hai,
Mahsoos Tab Hota Hai Jab Wo Juda Hota Hai.


दुश्मनों से मोहब्बत होने लगी है मुझे,
जैसे-जैसे दोस्तों को आजमाता जा रहा हूँ.!!


Dushmano Se Mohabbat Hone Lagi Hai Mujhe,
Jaise Jaise Dosto Ko Aazmata Ja Raha Hoon.


सच्चे दोस्त हमें कभी गिरने नहीं देते,
न किसी कि नजरों मे न किसी के कदमों में !


Sachche Dosth Kabhi Girne Nahi Dethe,
Na Kisi Ki Najron Se Na Kisi Ke Kadmon Mein.


इरादा तो दोस्ती का था,
लेकिन मोहब्बत हो गयी.!


Irada To Dosthi Ka Tha,
Lekin Mohabbat Ho Gayi.


चांद की इरादों में, सितारों के ख्वाब मिले
हम खुशनसीब हैं बहुत, जो हमें दोस्त बनकर आप मिले.!!


Chand ki iradon me, sitaro ke khwab mile,
Hum khushnaseeb hain bohot, jo hume dosth ban kar aap mile.


Dosti kisse
Friendship Shayari love

दोस्ती किससे न थी किससे मुझे प्यार न था,
जब बुरे वक़्त पे देखा तो कोई यार न था !!


Dosti Kis Se Na Thi Kis Se Mujhe Pyar Na Tha,
Jab Bure Waqt Pe Dekha To Koi Yaar Na Tha…


मटर पनीर समझ कर दोस्त बनाए थे.,
साले सब के सब टिंडे निकले..!!


Matar paneer samajh kar dost banae the saale sab ke sab tinde nikale.


दावे मुझे दोस्ती के नहीं आते यार,
एक जान है जब दिल चाहे मांग लेना.!


Daave Mujhe Dosti Ke Nahin Aate Yaar
Ek Jaan Hai Jab Dil Chaahe Mang Lena..


मिलकर लोग खुश होते है तो क्या हुआ,
बिना मिले दोस्ती निभाना भी जिन्दगी है।!


Milakar log khush hote hai to kya hua, bina mile dosthi nibhana bhi jindagi hai.


चलो आज फिर उसी बचपन में लौट चले,
बैठें फिर से उसी बूढ़े पीपल की छाँव तले !


Chalo aaj phir usi bachapan mein laut chale, baithen phir se usi boodhe peepal kee chhanv tale.


कितनी छोटी सी दुनिया है मेरी,
एक मै हूँ और एक दोस्ती तेरी.!


Kitni Choti Si Duniya Hai Meri,
Ek Mai Hoon Aur Ek Dosti Teri..


दम नहीं किसी में की मिटा सके हमारी दोस्ती को
जंग तलवारों को लगता है जिगरी यार को नहीं !


Dam Nahin Kisi Mein Kee Mita Sake Hamari Dosthi Ko,
Jang Talavaron Ko Lagata Hai Jigari Yaar Ko Nahin.


Dil se khayal
Dil se khayal ye dosth

दिल से ख्याल-ए-दोस्त भुलाया न जायेगा
सीने में दाग है की मिटाया न जायेगा !!


Dil Se Khyaal-E-Dost Bhulaya Na Jayega,
Seene Mein Daag Hai Kee Mitaya Na Jayega.


वो दोस्त उम्र भर क्या साथ देंगे जिन्होने..
चौराहे पर पुलिस देखकर बाइक से उतार दिया.!


Vo dosth umr bhar kya saath denge jinhone. chaurahe par pulis dekhakar baik se utaar diya.


Leave a Comment

Your email address will not be published.